Dard Ki Jab Kabhi Inteha Hoti Hai
Dava Ki Jarurat Kaha Hoti Hai
Tanhahi Becheni Aur Bas Kuch Ahahe
Inme Pal Bhar Ki Mohabbat Jaba Hoti Hai
दर्द की कभी इन्तेहा होती है
दवा की ज़रूरत कहा होती है
तन्हाई बेचेनी और बस कुछ आहे
इनमे पल भर की मोहब्बत जबा होती है

love foto shayri in word best shayri

                   Total Event Wishes


Dil Ko Dil Se Jodkar Sukh Dukh Se Nata Todkar
Alag Alar Aur Jati Hui Raho Ko Ek Aur Jodkar
Ek Ho Jaye Ham Sab Zamane Ke Bandano Ko Todkar
दिल को दिल से जोड़कर सुख दुःख से नाता तोड़कर
अलग अलग ओर जाती हुई राहों को एक ओर जोड़कर
एक हो जाये हम सब ज़माने के बंधन को तोड़कर